Breaking News
अजबपुर फ्लाईओवर पर हुआ दर्दनाक हादसा, दो महिला पुलिसकर्मियों को बस ने मारी टक्कर 
विदेश मंत्रालय ने कहा- 50 नागरिकों ने किया संपर्क, जल्द होगी रूसी सेना में शामिल भारतीयों की रिहाई
राम मंदिर के पुजारियों के लिए ड्रेस कोड लागू, अब इन कपड़ो में आयेंगे नजर 
मौसम सुहाना होने के साथ ही बढ़ा बीमारियों का खतरा, इन उपायों से रखे खुद को सुरक्षित 
कांवड़ यात्रा मार्ग के सभी भोजनालयों पर मालिक के नामोल्लेख पर कांग्रेस बिफरी
उत्तराखण्ड में अंतिम व्यक्ति तक पहुंचे स्वास्थ्य सेवाओं और योजनाओं का लाभ- सुरेश भट्ट
चुनाव में हार-जीत से आंदोलन समाप्त नहीं हुआ
ठोस रणनीति बनाकर मानव-वन्यजीव संघर्ष कम करें- सीएम
विमेन्स एशिया कप 2024- भारत और पकिस्तान के बीच मुकाबला आज 

अल्कोहल-बेस्ड से माउथवॉश करते हैं तो अलर्ट हो जाइए, बढ़ सकता है कैंसर का खतरा

आजकल अल्कोहल-बेस्ड माउथवॉश का इस्तेमाल बहुत ज्यादा बढ़ गया है। मुंह को जर्म्स फ्री रखने और दांतों, मसूड़ों की सफाई और के लिए माउथवॉश का इस्तेमाल हो रहा है जो बेहद खतरनाक हो सकता है. एक स्टडी में सामने आया है कि अल्कोहल-बेस्ड माउथवॉश से कैंसर का खतरा है।

स्टडी में बताया गया है कि अल्कोहल-बेस्ड माउथवॉश ओरल माइक्रोबायोम यानी मुंह के बैक्टीरिया पर सीधा असर डाल सकते हैं. जिसकी वजह से पीरियडोंटल डिजीज और कैंसर का जोखिम बढ़ सकता है. बता दें कि ओरल माइक्रोबायोम पाचन में मददगार होता है और मुंह को हेल्दी रखने का काम करता है।

क्या कहती है स्टडी
जर्नल ऑफ मेडिकल माइक्रोबायोलॉजी में प्रकाशित रिसर्च में ऐसे पुरुषों को शामिल किया गया, जो पुरुषों के साथ यौन संबंध बनाते हैं। यौन बीमारियों से बचने के लिए वे हर दिन माउथवॉश का यूज करते हैं। बेल्जियम के एंटवर्प में इंस्टीट्यूट ऑफ ट्रॉपिकल मेडिसिन की टीम ने बताया कि अल्कोहल-बेस्ड माउथवॉश के 3 महीने तक नियमित इस्तेमाल से इन पुरुषों के मुंह में बैक्टीरिया फ्यूसो बैक्टीरियम न्यूक्लियेटम और स्ट्रेप्टोकोकस एंजिनोसस की संख्या बढ़ गई।

बैक्टीरिया बढऩे से क्या होता है
मुंह में फ्यूसो बैक्टीरियम न्यूक्लियेटम और स्ट्रेप्टोकोकस एंजिनोसस दोनों बैक्टीरिया की संख्या बढऩे से मसूड़ों की बीमारी बढ़ सकती है. इससे इसोफेजियल और कोलोरेक्टल कैंसर का रिस्क भी बढ़ता है। इतना ही नहीं इस स्टडी में शोधकर्ताओं ने ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने के लिए जरूरी एक्टिनो बैक्टीरिया को भी घटते पाया है। मतलब इससे बीपी की समस्या भी बढ़ सकती है. कैंसर और ब्लड प्रेशर दोनों की समस्या जानलेवा हो सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top