Breaking News
लकड़ी का फर्नीचर गंदा हो गया है तो ये टिप्स अपनाएं, चमकने लगेगा तुरंत
लोकसभा चुनाव 2024- मतदेय स्थलों पर पोलिंग पार्टियों की रवानगी का सिलसिला शुरु 
बाबर जैसे आक्रांताओं की स्तुति करना कांग्रेस के संस्कार- महाराज
बढ़ता डिजिटल सेवा निर्यात
पटेलनगर में नाबालिक बच्ची ने खुद रची अपने अपहरण की साजिश, यहां जानें क्या है पूरा मामला
असम के चुनावी दौरे से पीएम मोदी ने कुछ इस तरह किए रामलला के ‘सूर्य तिलक’ के दर्शन
आईपीएल 2024 के 32वें मैच में आज दिल्ली कैपिटल्स और गुजरात टाइटंस होगी आमने- सामने 
अफगानिस्तान में बाढ़ से मरने वालों की संख्या हुई 50
लोकसभा चुनाव 2024-  आज शाम पांच बजे से थम जाएगा चुनाव प्रचार का शोर 

मंत्री स्मृति ईरानी की अध्यक्षता में आयोजित लोकार्पण कार्यक्रम में वर्चुअल माध्यम से प्रतिभाग करते कृषि मंत्री गणेश जोशी

देहरादून। प्रदेश के कृषि एवं कृषक कल्याण मंत्री गणेश जोशी ने आज सचिवालय सुभाष चंद्र बोस बिल्डिंग भूतल में बी०डी०पी० (Buddiest Development Plan) के अन्तर्गत केन्द्रीय अल्पसंख्यक मामलों की मंत्री स्मृति जुबिन ईरानी अध्यक्षता में वर्चुअल माध्यम से आयोजित लोकार्पण एवं शिलान्यास कार्यक्रम में प्रतिभाग किया गया। इस अवसर पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी द्वारा अन्य 05 राज्यों के साथ-साथ उत्तराखण्ड राज्य के लिए भी 03 परियोजनाओं (कुल लागत रू0 15.1362 करोड़) पंद्रह करोड़ तेरह लाख 62 हजार की लागत का वर्चुअली शिलान्यास किया गया।

उत्तराखंड में इन तीन स्वीकृत परियोजनानओं का शिलान्यास किया गया जिसमे (स्वीकृत लागत रू0 3.4819 करोड़) डा0 भीमराव अम्बेडकर बौद्ध समुदाय बाहुल्य क्षेत्रान्तर्गत बहुद्देश्यीय सभागार एवं पुस्तकालय का निर्माण, 1st / डी०एल०रोड, देहरादून। बौद्ध समुदाय बाहुल्य क्षेत्रान्तर्गत बहुद्देश्यीय सभागार का निर्माण, लखनवाला, देहरादून। (स्वीकृत लागत रू0 6.5679 करोड़)। बौद्ध समुदाय बाहुल्य क्षेत्रान्तर्गत शैक्षिक एवं कीड़ा सभागार का निर्माण, 2st/डी०एल०रोड, देहरादून। (स्वीकृत लागत रू0 5.0864 करोड़) शामिल है।
इस अवसर पर प्रदेश के कृषि एवं कृषक कल्याण मंत्री गणेश जोशी ने कहा कि हिमालयी बेल्ट को विकसित करने का जो सपना प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का था वह साकार हो रहा है। मंत्री गणेश जोशी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी का आभार भी व्यक्त किया। उन्होंने कहा कहा कि हमारी सरकार की प्रतिबद्धताओं के अनुरूप अल्पसंख्यकों के कल्याण एवं उनके जीवन स्तर में सुधान को सर्वोच्च प्राथमिकता प्रदान की जा रही है। विभिन्न विकास योजनाओं से इन वर्गों के लोगों के आर्थिक, सामाजिक एवं शैक्षिक उत्थान हेतु शिक्षा, गरीबी रेखा से ऊपर उठाना, कौशल सुधार एवं स्वरोजगार के लिए आर्थिक सहायता आदि योजनाओं के द्वारा अल्पसंख्यक वर्ग के लोगों का सर्वांगीण विकास करने का प्रयास किया जा रहा है।

उन्होंने कहा अल्पसंख्यक वर्ग के लागों के जीवन में गुणात्मक सुधार लाकर समाज में व्याप्त सामाजिक एवं आर्थिक असमानता को दूर कर इन्हें भी समाज के सामान्य वर्ग की बराबरी के स्तर पर लाना है। मंत्री गणेश जोशी ने कहा कि उनके विधान सभा क्षेत्र में भी बौद्ध समुदाय के अनेक संस्थान हैं और बौद्ध समुदाय का उनको बहुत सहयोग प्राप्त होता रहता है। मंत्री गणेश जोशी द्वारा अपेक्षा की गयी कि उक्त स्वीकृत कार्यों को समयबद्ध रूप से पूर्ण किया जाए।

इस अवसर पर एल० फैनई, प्रमुख, सचिव, अल्पसंख्यक कल्याण, राजेन्द्र कुमार, निदेशक, अल्पसंख्यक कल्याण, हीरा सिंह बसेड़ा, उप सचिव, अल्पसंख्यक, कल्याण जे०एस० रावत, जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी, देहरादून, सी०पी०एस० रावत, परियोजना प्रबन्धक, उत्तराखण्ड पेयजल निर्माण इकाई (कार्यदायी संस्था), बौद्ध समाज के अनेक प्रतिनिधियों के साथ डा० जितेन्द्र सिंह बुटोइया, डा० अनिल कुमार, मनोहर लाल, देवेन्द्र कुमार, कपिल कुमार, उमेश कुमार, राम सिंह, राजवीर सिंह, बन्टी कुमार, डी०आर०रवि, रेनू सिंह, भागेश्वरी देवी, गीता देवी, शिवलाल, गौतम, जयप्रकाश, पंकज कुमार, रमेश चन्द्र, आशा राम, ओमप्रकाश, धनेश सिंह, हरज्ञान सिंह आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top